Articles

वेटलैंड्स: एक बहुमूल्य प्राकृतिक सम्पदा

02 Feb 2021

आज वर्ल्ड वेटलैंड्स डे है। दुर्लभ, लुप्तप्राय प्रजातियों, बाढ़ नियंत्रण, जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने में वेटलैंड्स का बड़ा महत्व है लेकिन बढ़ते शहरीकरण, बाँध निर्माण, जलाशयों में अपशिष्ट के प्रवाह के कारण ये वेटलैंड नष्ट हो रहे हैं।

हर घर जल: चुनौतियाँ और अवसर

17 Dec 2020

पेयजल आपूर्ति में भारत का अनुभव नया नहीं है। जल जीवन मिशन कार्यक्रम से पहले, ग्रामीण घरों में पेयजल आपूर्ति प्रणाली के प्रावधान में एक बड़ी राशि खर्च की गई थी। 'जल जीवन मिशन' के लिए वित्त वर्ष 2020-21 के बजट में 11,500 करोड़ रुपये रुपए आवंटित किए हैं। इस कार्यक्रम को एक बड़ी सफलता बनाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों को जल्द हल किया जाना चाहिए।

पटियाला और लुधियाना के कूड़े से भरे तालाबों में आई जान : फिर से हुए लबालब

18 Sep 2020

सालों पुराने तालाब कूड़े के ढेर में तब्दील हो रहे थे। लेकिन इन सिकुड़ते तालाबों को टेरी और यूबियल ने मिलकर सामुदायिक सहभागिता से पुनर्जीवित किया है। सबकी भागीदारी से ये तालाब अब पानी से लबालब भर गए हैं। घटते भूजल स्तर के लिए एक तालाब का बड़ा महत्व है। इस तरह के प्रयास जारी रहने चाहिए।

पानी की होगी कमी: वर्षा जल संचयन को बनाना होगा एक जन आंदोलन

18 Aug 2020

जल संसाधन सीमित और दुर्लभ हैं। पानी घट रहा है और साल 2050 तक यह कमी एक बड़ा संकट बन सकती है। ऐसे में हमें वर्षा जल संचयन जैसे जल संरक्षण के स्थायी तरीकों को अपनाना चाहिए। वर्षा जल संरक्षण न सिर्फ मैदानी बल्कि पहाड़ी इलाकों के लिए भी ज़रूरी है।

TERI conducts water monitoring of the Yamuna River during COVID-19 lockdown

06 Jul 2020

During COVID-19 lockdown, a study was conducted by TERI to observe the metals/heavy metal concentration in the Yamuna River.

गाँवों में पानी के संकट को मिटाएगा जल जीवन मिशन, आसान नहीं है डगर पनघट की

05 Mar 2020

अभी ग्रामीण घरों में पाइप से पानी की आपूर्ति लगभग 18% है और जल जीवन मिशन में इसे 100% तक पहुंचाने का लक्ष्य है। पिछले साल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस 2019 के अवसर पर देश के सभी घरों को पाइप के द्वारा जल उपलब्ध करवाने के लिए “जल जीवन मिशन” की घोषणा की थी। इसके लिए केंद्र और राज्य मिलकर काम करेंगे। घरों तक नल के माध्यम से जल पहुंचाने की इस महत्त्वाकांक्षी परियोजना पर 3.60 लाख करोड़ रुपये लागत आने का अनुमान है, जिसमें केंद्र सरकार 2.08 लाख करोड़ रुपये अंशदान देगी। 'जल जीवन मिशन' के लिए वित्त वर्ष 2020-21 के बजट में 11,500 करोड़ रुपये रुपए आवंटित किए हैं।

Water management in the hills needs a serious rethink

02 Mar 2020 | Mr Rajshekhar Pant

The available water resources in the hills should not be taken for granted and the urgency of caution with regard to the exploitation of water – a critical resource – must not be underplayed.

अगले 10 साल हैं ज़रूरी: WSDS में होगी 2030 के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए चर्चा

24 Jan 2020

20 देशों के प्रतिनिधि आएंगे साथ एक ही मंच पर वायु प्रदूषण, ई-गतिशीलता, नवीकरणीय ऊर्जा, ऊर्जा दक्षता, हरित वित्त, नीली अर्थव्यवस्था, टिकाऊ खपत, कई मुख विषयों पर होगी चर्चा। सतत विकास में योगदान की होगी पहचान, सस्टेनेबल डेवलपमेंट लीडरशिप अवार्ड से नवाज़ा जाएगा।

हरित एजेन्डा: भारत की पानी की स्थिति में सुधार करना

02 Jul 2019

हम एक ऐसे भविष्य की तरफ बढ़ रहे हैं जहाँ पानी की समस्या गंभीर रूप ले लेगी। पानी की गुणवत्ता में गिरावट, जल स्तर में कमी, भूजल का अधिक दोहन गंभीर भविष्य की और इशारा कर रहे हैं। बहुत ज़रूरी है कि हम अपने जल संसाधनों की सुरक्षा और प्रबंधन करें ताकि सभी लोगों को पानी मिल सके।

Saving Punjab's groundwater, one agricultural pump at a time

19 Jun 2019

A scheme in Punjab delivers direct monetary benefit to farmers for using agricultural pumps more efficiently