Articles

हवा से पानी बनाने की मशीन - बुझा सकती है गाँव की प्यास

09 Apr 2021

देश में पानी की कमी को हल करने के लिए जल संरक्षण की पारंपरिक समझ को आधुनिक तकनीकी विकास और क्षमता के साथ मिलाने की ज़रूरत है। ‘एयर टू वाटर’ तकनीक दूरदराज और साथ ही दूषित पानी की समस्या झेल रहे क्षेत्रों के लिए पानी की आपूर्ति के अवसर देती है।

पानी की बचत और संरक्षण की दिशा में चार अहम कदम

07 Apr 2021

जल संरक्षण के प्रयास या वर्षा जल संचयन के प्रयास स्थानीय स्तर पर होने चाहिए और स्थानीय प्रयासों के बिना जल संरक्षण के प्रयास व्यापक अभियान का रूप नहीं ले सकेंगें पानी के पुनर्चक्रण और पुन: उपयोग को अपनाया जाना चाहिए। ट्रीटमेंट के तरीकों में प्राकृतिक उपचार प्रणाली को शामिल किया जाना चाहिए गैर सरकारी संगठनों, स्थानीय निकायों और व्यक्तियों को स्थानीय पंचायतों के साथ गहनता से जल संरक्षण के काम में शामिल किया जाना चाहिए जल प्रबंधकों और नीति निर्माताओं को जल प्रबंधन प्रशिक्षण दिया जाना

Air Pollution in India: Major Issues and Challenges

05 Apr 2021 | Dr Bhola Ram Gurjar

This article foregrounds the challenges India is currently facing in bringing the level of air quality to a certain standard. It also discusses solutions that could be adopted to combat the national crisis.

Blue economy: An ocean of livelihood opportunities in India

12 Mar 2021

Blue economy for India means a number of economic opportunities related to ocean and marine ecosystems, playing an important role in generating and sustaining livelihoods

The Elf of Plants They Call Mushroom

09 Mar 2021 | Mr Rajshekhar Pant

Thomas Carlyle had said once, 'Thou fool! Nature alone is antique, and the oldest art a mushroom; the idle crag thou sittest on is six thousand years of age.' Isn't it a fact that we haven't yet grown big enough to realize the benevolence of nature that has long been arming us to the teeth against all odds?

Air Quality and Public Health Challenges: The battle can be won

25 Feb 2021

It is time to take action on air pollution using both technology and awareness as major methods and it needs strong incentive mechanisms to ensure participation both by farmers and clean-energy producers

A Sustainable Development Agenda: Plastic and Biomedical Waste Post COVID-19

24 Feb 2021 | Mr Hans Nicolai Adam| | Ms Emmy Noklebye

In this article, Hans Nicolai Adam, Emmy Noklebye, and Girija K Bharat discuss biomedical and plastic waste management in the post COVID-19 world. The authors focus on the role of the informal sector, which plays a significant role in India's waste management systems, and is assuming a growing role in plastic waste management. Yet, the informal waste management sector remains highly vulnerable, as evidenced by the authors' study.

वेटलैंड्स: एक बहुमूल्य प्राकृतिक सम्पदा

02 Feb 2021

आज वर्ल्ड वेटलैंड्स डे है। दुर्लभ, लुप्तप्राय प्रजातियों, बाढ़ नियंत्रण, जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने में वेटलैंड्स का बड़ा महत्व है लेकिन बढ़ते शहरीकरण, बाँध निर्माण, जलाशयों में अपशिष्ट के प्रवाह के कारण ये वेटलैंड नष्ट हो रहे हैं।

2021: क्या हम गर्म होती धरती को 1.5 डिग्री के रास्ते पर ला पाएंगे

21 Jan 2021

वर्ल्ड सस्टेनेबल डेवलपमेंट समिट के 20 साल एनर्जी ट्रांजीशन, क्लीन ओशियन, अडेप्टेशन एंड रेज़ीलियंश, वीमेन ऑन दी राइज़ , इंडस्ट्री ट्रांजीशन, सर्कुलर इकॉनमी, एयर पॉल्यूशन, नेचर-बेस्ड सोल्यूशन, ग्रीन ग्रोथ, जैसी बड़ी थीम पर होगी चर्चा ग्लोबल साउथ से युवाओं और महिलाओं की आवाज़ को आगे रखते हुए की जाने वाली यह चर्चा ग्लास्गो में होने वाले COP26 में योगदान देगी

Farmers Shift to Climate-resilient Crop: With Rising Cyclones in Tamil Nadu

13 Jan 2021 | Ms Sharada Balasubramanian

In the recent past, the Bay of Bengal has witnessed frequent cyclones. In 2011, when Cyclone Thane struck the coasts of Cuddalore in Tamil Nadu, many farmers looked for a crop that could withstand climatic fluctuations. Sharada Balasubramanian says vetiver (Chrysopogon zizanioides)—a hardy grass—was found to be a suitable alternative to cashew and casuarina, which were often getting toppled by cyclone. Farmers found this not just climate-resilient, but also profitable from an income perspective.